amit shah says pragya thakur was charged in false cases

साध्वी प्रज्ञा पर ‘हिंदू टेरर’ के नाम से फर्जी केस लगाया गया था : अमित शाह

साध्वी प्रज्ञा की उम्मीदवारी को लेकर चल रही बहस के बीच भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह का बड़ा बयान दिया है। अमित शाह ने साध्वी प्रज्ञा की उम्मीदवारी का बचाव किया है और कहा कि उन्हें सिर्फ एक फर्जी केस में फंसाया गया था। कोलकाता में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए अमित शाह ने कहा कि हिंदू आतंकवाद के नाम पर एक फर्जी केस बनाया गया था, जिसमें उन्हें फंसाया गया था।

काफी लंबे समय तक अदालतों में केस चला था, जो पूरी तरह से फर्जी पाया गया है। उन्होंने कहा कि समझौता ब्लास्ट मामले में स्वामी असीमानंद और बाकी सब को छोड़ा गया है, लेकिन किसी ने तो किया है ना। जिसने किया है उसे पहले सीबीआई ने पकड़ा था, लेकिन आज वो कहां है। पहले अमेरिका ने भी लश्कर का नाम लिया था, लेकिन धमाका करने वाले कहां हैं।

उधर, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता शिवराज सिंह चौहान भी अब प्रज्ञा के बचाव में उतर आए हैं। एक इंटरव्यू में शिवराज ने प्रज्ञा का बचाव करते हुए उन्हें भारत की बेटी बताया। शिवराज ने कहा, भारत की एक ऐसी बेटी जो सन्यासी है, जिसने पूरे जीवन को एक मकसद के लिए समर्पित कर दिया, उन्हें बिना किसी अपराध के कानून का गलत इस्तेमाल कर जेल भेजा जाता है। उन पर अन्याय होता है। इतना ही नहीं आप भगवा आतंकवाद और हिंदू आतंकवाद का शब्द गढ़ते हैं और हिंदुत्व को बदनाम करने की साजिश करते हैं। मैं फिर कह रहा हूं कि हिंदू और आतंकवाद कभी कोई तालमेल नहीं है।

बंगाल में कानून-व्यवस्था के सवाल पर अमित शाह ने कहा कि बंगाल में लोकतंत्र का अस्तित्व समाप्त हो गया है। कानून व्यवस्था भी विफल हो गई है। बंगाल के अंदर लोकतंत्र स्वतंत्र नहीं है। लोगों के मत का गला घोटने का काम किया जा रहा है। मैं बंगाल की जनता से अपील करने आया हूं कि जरा भी मन में भय रखे बगैर बेखौफ होकर मतदान करिए।

अमित शाह ने आतंकवाद पर अपनी पार्टी की जीरो टॉलरेंस की पॉलिसी को दोहराते हुए कहा, मोदी सरकार ने आतंकवाद के खिलाफ पिछले पांच साल में जीरो टॉलरेंस की नीति को अपनाई है। हमारे संकल्प पत्र में हमने इस नीति को और आगे बढ़ाने का संकल्प किया है। लेकिन विपक्षी पार्टियां देश की सुरक्षा के अहम मुद्दे पर चुप दिखाई देती है।

उन्होंने आगे कहा, विपक्ष के पास कोई नेतृत्व नहीं है विपक्ष अपना न कोई नेता, न नीति देश के सामने रख पाया है। शाह ने कहा, राष्ट्र की सुरक्षा के लिए बीजेपी स्पष्ट नीति लाई है। चाहे आतंकवाद हो, एनआरसी हो, सिटिजन अमेंडमेंट बिल हो, चाहे धारा 370 और 35ए को हटाने की बात हो। इस सभी बातों पर हमने अपने संकल्प पत्र में स्पष्ट नीति अपनाई है।

Related posts

24 साल बाद एक मंच पर नजर आए मुलायम और मायावती, जमकर की एक-दूसरे की तारीफ

admin

जानिए क्या है आचार संहिता ?

admin

लखनऊ में शत्रुघ्न सिन्हा ने किया पत्नी का प्रचार, तो भड़के कांग्रेस उम्मीदवार बोले

admin

बंगाल के हाल-बेहाल

admin

वाराणसी से SP-BSP ने बदला अपना उम्मीदवार, BSF जवान तेज बहादुर को दिया टिकट

admin

केरल की वायनाड सीट से राहुल गांधी ने किया नामांकन तो स्मृति ईरानी बोली

admin