Kanhaiya Kumar files nomination from Begusarai

कन्हैया कुमार ने बेगुसराय से दाखिल किया नामांकन, गिरिराज सिंह को देंगे टक्कर

2019 लोकसभा चुनाव में हॉट सीट बनी बिहार के बेगूसराय से आज सीपीआई उम्मीदवार और जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने नामांकन दाखिल कर दिया है। इस सीट पर चौथे चरण के तहत 29 अप्रैल को चुनाव होना है। बेगूसराय सीट पर कन्हैया कुमार का मुकाबला बीजेपी के गिरिराज सिंह और आरजेडी के तनवीर हसन से है।

कन्हैया कुमार ने नामांकन से पहले जीरोमाइल में राष्ट्रकवि दिनकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इसके बाद हजारों समर्थकों के साथ जुलूस लेकर वो बेगूसराय के लिए रवाना हुए जहां कन्हैया कुमार ने नामांकन दाखिल करने से पहले रोड शो किया। इस रोड शो में कन्हैया का समर्थन करने पहुंचे गुजरात के विधायक और दलित नेता जिग्नेश मेवानी, जेएनयू छात्र संघ की पूर्व उपाध्यक्ष शेहला रशीद, नजीब अहमद की मां और गुरमेहर कौर भी शामिल हुए। इतना ही नहीं, कन्हैया के समर्थन में सड़कों पर जनसैलाब देखने को मिला। लाल झंडों और लाल सलाम के नारों के साथ समर्थक कन्हैया के साथ नामांकन के लिए जाते दिखे।

Kanhaiya Kumar files nomination from Begusarai
Kanhaiya Kumar files nomination from Begusarai

कन्हैया कुमार ने नामांकन करने जाने से पहले अपनी मां का आशीर्वाद लिया। उन्होंने ट्विटर पर तस्वीरें साझा कर लिखा- मांओं के आशीर्वाद और दुआओं के साथ नामांकन के लिए निकल रहा हूं. यह सीख उनसे ही मिली है कि लक्ष्य चाहे कितना ही बड़ा क्यों न हो अगर हम लगातार कोशिश करें तो जीत ज़रूर मिलती है। और यह भी कि पूरी दुनिया के दुख-दर्द को अपना दुख-दर्द समझना ही इंसान होने की पहली शर्त है’।

बता दें बेगूसराय के 19 लाख मतदाताओं में भूमिहार मतदाता करीब 19 फीसदी, 15 फीसदी मुस्लिम, 12 फीसदी यादव और सात फीसदी कुर्मी हैं। भूमिहार वोट यहां की मुख्य कड़ी हैं और इस बात का सबूत है कि पिछले 16 लोकसभा चुनावों में से कम से कम 11 में नौ बार भूमिहार सांसद बने हैं। 2009 में अंतिम परिसीमन से पहले बेगूसराय जिले में दो संसदीय सीटें बेगूसराय और बलिया सीट थीं। तब उन दोनों को मिलाकर बेगूसराय कर दिया गया और बलिया सीट खत्म हो गई। बेगूसराय जिले की सात विधानसभा सीटों में से पांच बलिया में आती हैं।

कन्हैया कुमार नामांकन दर्ज करने से पहले से ही फेसबुक और ट्विटर के जरिए अपने समर्थकों के संपर्क में थे और उनके लिए लगातार संदेश लिख रहे थे। कन्हैया को अंदेशा था कि समर्थकों की भारी भीड़ आ सकती है। इसलिए कन्हैया ने उनके लिए सोशल मीडिया के जरिए लिखकर अपील की, आज नामांकन रैली में आने वाले समर्थकों और कार्यकर्ताओं से अनुरोध है कि वे अनुशासित रहें और ट्रैफिक नियमों का पालन करें। कृपया एंबुलेंस, फायर ब्रिगेड जैसी इमरजेंसी सेवा की गाड़ियों, स्कूल बस आदि को पहले निकलने दें।

Related posts

ममता ने बनाया महिलाओं को सिरमौर

admin

रोहतक में बोले पीएम मोदी- हजारों सिख भाई-बहन मार दिए गए और आज कांग्रेस बोल रही है ‘हुआ तो हुआ’

admin

बंगाल के हाल-बेहाल

admin

BJP में शामिल हुए सनी देओल, बोले- पापा अटल के साथ जुड़े, मैं मोदी के साथ

admin

गोवा के नए मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने संभाली मनोहर पर्रिकर की विरासत

admin

नवजोत सिंह सिद्धू ने चुनावी रैली में बुजुर्ग से कहा ‘पप्पी’ ले लो

admin